हैप्पी होली को हेल्दी होली बना रहे लोग बेक्ड गुजिया के साथ

लखनऊ रगों की फुहार, हर तरफ बहार, पिचकारियों से बाजार गुलजार… ये सब इशारा कर रहे हैं कि होली आ गई है। होली के इस हुड़दंग के साथ घर से लेकर बाजार तक स्वाद की भी पिचकारी चल रही है। कहीं चाशनी में डूबी गुझिया तैयार हो रही हैं तो कहीं पापड़ और चिप्स फ्राई किए जा रहे हैं। स्वाद के इस त्योहार में सेहत न बिगड़ जाए लोग इसका भी ख़ास ख्याल रख रहे हैं।

 बाजार में खासतौर पर इस बार शुगर फ्री और बेक्ड गुझियों की रेंज मौजूद है। कहीं शुगर की जगह हनी और अंजीर      का इस्तेमाल किया गया है तो कहीं पापड़ फ्राई करने के लिए एयरफ्रायर लेने की तैयारी है।

जिन्हें मैदे और घी में फ्राई की हुई खोया और चीनी वाली गुझिया देखकर डर लगता है। खाने का मन तो करता है लेकिन सेहत की फिक्र रोकती है ऐसों के लिए इस बार बाजार में बेक्ड गुझियां मौजूद हैं। लखनऊ के कुछ बेकर्स ने खासतौर पर बेक्ड गुझिया तैयार की हैं। इसमें नाम मात्र का तेल इस्तेमाल किया गया है। इन बेक्ड गुझियों में तीन वेराइटी हैं। इसमें आपको मिलेगी खोया, चॉकलेट और केसर के फ्लेवर वाली गुझिया ।राजधानी की एक बेकरी शॉप के मैनेजर अनिल सैनी बताते हैं कि इस बार खुद लोगों ने बेक्ड गुझिया की डिमांड की जिसके बाद हमने आधा किलो से लेकर एक,डेढ़ और दो किलो तक की पैकिंग्स वाली यह वेराइटीज लॉन्च की।इन गुझियों का सबसे छोटा आधा किलो का पैक मार्किट में 240 रुपए में उपलब्ध है । हेल्द कॉन्शियस लोगों के लिए इसमें खोये का कम इस्तेमाल किया गया है और ड्राई फ्रूट्स का ज्यादा इस्तेमाल किया गया है ।

इतना ही नहीं रोस्टेड नमकीन, रोस्टेड पापड़ के साथ इस बार रोस्टेड गुझिया भी बाजार में खाने के शौक़ीन अपने ग्राहकों का इंतजार कर रहीं हैं।इन सभी की डिमांड इतनी ज्यादा है कि बेकरी शॉप्स इनको पूरा करने में रात दिन पैक्स तैयार करने में लगे हुए हैं ।

 इन बेकरी शॉप्स में आने वाले कस्टमर्स का कहना है कि होली में गुझिया तो हर जगह बनती हैं लेकिन उनमें सुगर ज्यादा होती है सुगर और फैट सेहत के लिए नुकसानदेह भी है तो हम इस बार बाजार में मौजूद इन बेक्ड गुझियों को खाना और अपने फ्रेंड्स रिलेटिव्स को गिफ्ट्स में देना पसन्द कर रहे हैं ।यहीं वजह है कि इस बार की होली में बेक्ड गुझियों को ही घर ले जाकर होली को हेल्दी होली करने के लिये ।