अखिलेश यादव की बढ़ती लोकप्रियता को धूमिल करने के लिए योगी सरकार रच रही साजिश – सुनील सिंह साजन

लखनऊ – उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सरकारी बंगले को खाली करने के बाद भी बंगला में तोड़-फोड़ का विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है, ताजा विवाद में अखिलेश यादव पर बंगले से सामान ले जाने और तोड़फोड़ करने का आरोप है, बंगले में तहस-नहस करने की भी तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहीं हैं और अखिलेश यादव की सोशल मीडिया पर खूब किरकिरी हो रही है। वहीं योगी के मंत्री अखिलेश यादव पर सवाल खड़ा कर रहे हैं कि क्या अखिलेश यादव ने सरकारी बंगले में अपनी विलासिता छुपाने के लिए ये तोड़फोड़ कराई है।

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव इस तरह से तमाम आरोप लगने के बाद समाजवादी पार्टी अपने नेता के बचाव में उतर आई है, उनका आरोप है पूर्व सीएम को बदनाम करने के लिए साजिश के तहत बंगले को तहस-नहस करने के बाद सोशल मीडिया पर बंगले की तस्वीर वायरल की गई है।

सपा एमएलसी सुनील सिंह साजन ने ट्वीट कर योगी सरकार पर साधा निशाना

रविवार को समाजवादी पार्टी के एमएलसी सुनील यादव ‘साजन’ ने योगी आदित्यनाथ निशाना साधते हुए कहा कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की छवि को बदनाम करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश पर बंगले में रात में तोड़फोड़ की गई उसके बाद सुबह मीडिया को बुलाकर उनकी छवि को बदनाम करने की कोशिश की गई। प्रदेश में बीजेपी की सरकार बनने के बाद से उनके काम-काज को जनता ने जिस तरह नाकारा है और उपचुनावों में हो रही लगातार हार से औऱ पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पूरे देश में बढ़ती लोकप्रियता के चलते सरकार जान बूझकर इस तरह के मुद्दों को उछालकर अखिलेश यादव की छवि को जनता के बीच में खराब करने की कोशिश कर रही है।