डॉ.काफिल ने बीजेपी सांसद पर लगाए सनसनीखेज़ आरोप, पुलिस की कार्रवाई पर भी उठाए सवालिया निशान

गोरखपुर – बीआरडी मेडिकल कॉलेज से चर्चा में डॉ.काफिल के भाई के ऊपर हुए जानलेवा हमले में डॉ कफील ने हमले का आरोप बीजेपी सांसद कमलेश पासवान और व्यापारी सतीश नागलिया पर बड़ा आरोप लगाया है। घटना पर सनसनीखेज बयान देते हुए डॉ.कफील ने कहा कि इन लोगों के कहने पर ही बदमाशों ने मेरे भाई पर जानलेवा हमला किया था। यूपी पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए डॉ कफील ने पूरे घटनाक्रम की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है। उन्होंने कहा कि घायल के इलाज में देरी के जरिए उसे दोबारा मारने का प्रयास किया गया। इसके लिए सीओ गोरखपुर प्रवीण सिंह और एसपी सिटी विनय कुमार सिंह को सस्पेंड करके इसकी जांच हाईकोर्ट के जज से होनी चाहिए।

डॉ.कफील ने कहा कि यह सुप्रीम कोर्ट की गाइड लाइन का स्पष्ट उल्लंघन है,  जो कहती है कि मरीज की जान बचाना पहले जरूरी है लेकिन दोनों अधिकारियों ने कानूनी कार्रवाई के नाम पर गोली से घायल काशिफ का ऑपरेशन के लिए 4 घंटे का इंतजार कराया। इतनी देर में मेरे भाई की जान भी जा सकती थी। डॉ.काफिल ने बताया कि मुझे और मेरे परिवार पर दोबारा कभी भी हमला हो सकता है इसलिए मुझे और मेरे परिवार को प्रदेश सरकार सुरक्षा मुहैय्या कराए। साथ ही मुझे अब पुलिस की कार्रवाई पर बिलकुल भरोसा नहीं है इसलिए इस मामले की जांच सीबीआई से कराई जाए।