बकरीद आज, गुलशन हुए बाजार, लखनऊ के मुस्लिम समुदाय के लोग मनाएंगे Eco Friendly बकरीद

लखनऊ – ईद-उल-जुहा (बकरीद) पर बुधवार को शहर की अलग-अलग ईदगाह के साथ ही कई मस्जिदों में भी नमाज अदा की जा रही है, इसके चलते शहर में कई इलाकों का यातायात बदला गया है। वहीं बकरीद पर कुर्बानी के लिए मंगलवार को बकरे के साथ अन्य सामानों की खूब बिक्री हुई।

सुबह नमाज अदा करने के बाद लोग पैगंबर हजरत इब्राहीम अलैहस्सलाम की सुन्नत पर अमल करते हुए जानवरों की कुरबानी करेंगे। घरों में कुरबानी के साथ शहर के सौ स्थानों पर सामूहिक कुरबानी का आयोजन रखा गया है।

बकरीद की तैयारियों के मद्देनजर करीब एक सप्ताह से बाजारों में खूब खरीदार उमड़ रहे थे, वहीं बकरीद के एक दिन पहले मंगलवार को शहर के विभिन्न बाजारों में खूब रौनक रही। एक ओर लोगों ने बकरीद पर कुर्बानी के लिए बकरों और दुंबा की खरीदारी की। तो वहीं दूसरी ओर महिलाओं ने कपड़े, इत्र, ड्राई फ्रूट्स की खरीदारी की, इसके चलते पलटन बाजार, मुस्लिम कॉलोनी, धामवाला, माजरा, करनपुर, डालनवाला, आजाद कॉलोनी, इनामुल्ला बिल्डिंग आदि इलाकों की बाजारों में खासी चहल-पहल रही। बकरों की मंडी में भी मंगलवार रात को खूब चहल-पहल दिखी, बाजार में बकरों की खूब बिक्री हुई।

इस बार Eco Friendly बकरीद मनाने के पक्षधर में मुस्लिम

बकरीद को लेकर लोगों में जहां एकतरफ उत्साह है तो वहीं दूसरी तरफ मुस्लिम पक्ष के लोग इस बार Eco Friendly बकरीद मनाने की बात कह रहे हैं, मुस्लिम इस बार करेंगे सिमबॉलिक क़ुरबानी, बकरा केक काट करके बकरीद मना रहे हैं।

पुराने लखनऊ के मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में बकरीद पर बकरे वाले केक के जबरदस्त ऑर्डर किए गए हैं, अपने परिवार के साथ-साथ रिश्तेदारों के लिए भी बकरे वाले केक का ऑर्डर देकर भेज रहे हैं। साथ ही अन्य मुस्लिम समुदाय के लोगों से भी जानवर की क़ुरबानी न देकर बकरे वाले केक काटकर सिमबॉलिक बकरीद मनाने की अपील कर रहे हैं।