अब अफसरों को मिलेंगे पूर्व मुख्यमंत्रियों के बंगले, बड़े बंगले की इच्छा रखने वाले मंत्रियों की मंशा पर फिरा पानी

लखनऊ – पूर्व मुख्यमंत्रियों के बंगलों को सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद खाली कराने के बाद योगी सरकार अब इसको लेकर बड़ा फैसला लेने जा रही है, योगी सरकार अब पूर्व मुख्यमंत्रियों के बंगले को किसी मंत्री को न देकर बड़े अफसरों को देने की तैयारी कर रही है। हालाकि बसपा सुप्रीमो और अखिलेश यादव के बंगले पर अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है।

आसार ये लगाए जा रहे थे कि इन बंगलों में योगी सरकार के खास मंत्रियों को जगह मिलेगी लेकिन सरकार इन बंगलो को मंत्रियों की जगह अफसरों को देने पर विचार कर रही है। हाल ही में यूपी सरकार में स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कुछ समय पहले मुख्य सचिव को पत्र लिखकर अखिलेश यादव के बंगले को देने की मांग की थी उनके मुताबिक अभी जो बंगला उन्हे मिला है वो आने वाले मेहमानों के हिसाब से काफी छोटा है इसलिए बड़ा बंगला दिया जाए।

बता दें कि कुछ महीने पहले सर्वोच्च अदालत के आदेश पर अखिलेश यादव, मायावती सहित राज्य के पूर्व मुख्मंत्री राजनाथ सिंह, कल्याण सिंह, नारायण दत्त तिवारी और मुलायम सिंह के बंगलों को खाली करवाया गया था।

सरकारी सूत्रों की माने तो प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार को गृहमंत्री और पूर्व मुख्यमंत्री राजनाथ सिंह का बंगला दिया जा सकता है, अध्यक्ष राजस्व परिषद प्रवीर कुमार को लखनऊ के मॉल एवेन्यू में पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह का बंगला दिया जा सकता है वहीं मुलायम सिंह का बंगला एपीसी डॉ. प्रभात कुमार को देने पर विचार चल रहा है।

जानकारी के मुताबिक इस बारे में राज्य सम्पत्ति विभाग ने अपनी तरफ से बंगलों की सुविधाओं और कैटेगरी के बारे में सरकार को बता दिया है अब सरकार की तरफ से फैसला होना है कि आखिर कब इन बंगलों का आवंटन किया जाये। हालांकि योगी सरकार के तमाम बड़े मंत्रियों की निगाहे इन बंगलों पर थी पर उन्हे अपनी हसरत दिल में ही रखनी होगी।