एक बार फिर पिता और पुत्र के रिश्ते उस वक्त तार-तार हो गए जब

दिल्ली से सटे गाजियाबाद के लोनी इलाके में एक बार फिर पिता और पुत्र के रिश्ते उस वक्त तार-तार हो गए ।जब एक पिता ने अपने ही जवान पुत्र को सरियों से पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया ।और आरोपी पिता इस वारदात को अंजाम देने के बाद मौके से फरार हो गया ।घटना करीब देर रात की है ।जिसकी सूचना मृतक की मां द्वारा पुलिस को दी गई ।सूचना के आधार पर मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। और आरोपी पिता की तलाश में जुट गई।
मिली जानकारी के अनुसार गाजियाबाद के लोनी थाना ट्रोनिका सिटी इलाके की पूजा कॉलोनी में स्थित 50 गज के मकान में अब्दुल रहीम  का एक परिवार रहता है। अब्दुल रहीम कि एक बेटी और तीन बेटे हैं। अब्दुल रहीम ने कुछ दिन पहले अपनी बेटी की शादी कर दी थी। इस दौरान उसके ऊपर कुछ कर्ज हो गया था। जिसे चुकाने के लिए अब्दुल रहीम ने 50 गज मकान में से 25 गज मकान बेच दिया था। जिसे लेकर अब्दुल रहीम का 21 वर्षीय बड़ा बेटा अशफाक काफी नाराज था ।बताया जा रहा है कि अशफाक रोजाना शराब के नशे में आता था ।और अपने पिता अब्दुल रहीम से बाकी 25 गज जमीन को अपने नाम कराना चाहता था। इस बात को लेकर घर में काफी विवाद पनप रहा था। और 2 दिन से घर में काफी झगड़ा हो रहा था ।अशफाक और अब्दुल रहीम के बीच मारपीट भी हुई। जिसके चलते देर रात बाप और बेटों में जमकर झगड़ा हुआ। जिसके बाद अशफाक मकान के ऊपर छत पर सो गया था। देर रात अब्दुल रहीम ने लोहे की छड़ से अपने ही 21 वर्षीय बेटे अशफाक के सर पर ताबड़तोड़ वार कर डाले ।इस दौरान अशफाक की मौके पर ही मौत हो गई ।और अब्दुल रहीम मौके से फरार हो गया था। करीब 4:00 बजे अशफाक की मां ने स्थानीय पुलिस को सूचित किया। जिसके आधार पर मौके पर पहुंची पुलिस ने अशफाक के शव को लहूलुहान हालत में बरामद किया। पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। और मामले की जांच करते हुए आरोपी की तलाश में जुट गई।

इस पूरे मामले में अशफाक की मां का कहना है ।कि अशफाक अपने द्वारा कमाए गए पैसे घर नहीं देता था। और आए दिन शराब पीकर वह घर में मारपीट किया करता था। जिसका विरोध अशफाक के पिता लगातार करते आ रहे थे ।और 2 दिन से घर में झगड़ा चल रहा था ।अशफाक ने अपने पिता के साथ मारपीट की जिसके बाद उसके पिता ने इस घटना को अंजाम दिया ।
उधर इस पूरे मामले में एसपी देहात अरविंद कुमार मौर्या का कहना है। कि सुबह 4:00 बजे पुलिस को मृतक की मां के द्वारा सूचना दी गई थी ।जिसके आधार पर मौके पर पहुंची पुलिस ने अशफाक को लहूलुहान हालत में मृत पाया। फिलहाल पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। और मामले की जांच करते हुए आरोपी की तलाश शुरू कर दी गई है।

बहराल एक पिता द्वारा अपने ही पुत्र को मौत के घाट उतार देने के बाद से पूरे इलाके के लोग सकते में हैं। और हर किसी की जुबान पर बस एक ही बात निकल रही है कि आखिर जिस बाप ने 21 साल तक अपने बेटे को लाड़ प्यार से पाला आखिर उसी बाप ने अपने बेटे को सरियों से पीट पीट कर मौत के घाट किस लिए उतार दिया।