उत्तर प्रदेश के देवरिया में सामने आया मुजफ्फरपुर जैसा मामला, बालिका गृह से छुड़ाई गईं 24 लड़कियां

देवरिया: उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में  बिहार के मुजफ्फरपुर जैसा मामला  सामने आया है. उत्तर प्रदेश के देवरिया में बालिका गृह से किसी तरह बचके निकली एक बच्ची ने चौंकाने वाले खुलासे किए हैं. बच्ची ने दावा किया है कि उनसे झाडू़-पोछा और बर्तन मजवाने का काम कराया जाता था. लड़की के बयान पर जब पुलिस ने बालिका गृह पर छापा मारकर 24 बच्चियों और लड़कियों को छुड़ाया, जबकि बालिका गृह से 18 लड़कियां अभी भी गायब हैं. संचालिका और उसके पति को गिरफ्तार कर लिया गया है. फिलहाल संस्था को सील कर दिया गया है.

इलाके के एसपी रोहन पी कनय के अनुसार मां विंध्यवासिनी महिला एवं बालिका संरक्षण गृह नाम के एनजीओ की सूची में 42 लड़कियों के नाम दर्ज हैं, लेकिन छापे में मौके पर केवल 24 मिलीं. पुलिस बाकी 18 लड़कियों की तलाश में जुटी हैं. इस नारी संरक्षण गृह के बारे में लंबे समय से शिकायत मिल रही थी. इस बीच बच्ची ने बताया कि वहां कई लोग शाम को कारों से आते थे और मैडम के साथ लड़कियां ले जाते थे, जिसके बाद वे लड़कियां देर रात घर लौटती थीं.

पुलिस जांच में पता चला है कि संस्थान गैर कानूनी ढंग से संचालित हो रहा था. अनियमितताओं के कारण इसकी मान्यता जून-2017 में समाप्त कर दी गई थी. मामले में मानव तस्करी, देह व्यापार व बाल श्रम से जुड़ी सेक्शन लगाए गए हैं.