लख़नऊ में मदद के बजाय सेल्फी लेते दरोगा का निलंबन

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ पुलिस का संवेदनहीन चेहरा सामने आया है। यहां सीमेंट की गोदाम में बोरियों के नीचे दबने से दो मजदूरों की मौत हो गई। इस दुखद घटना के बीच दरोगा घटना स्थल पर सेल्फी लेते हुए नजर आए। इस घटना के बाद मृतकों के घर में कोहराम मचा हुआ है।

जानकारी के मुताबिक, यह घटना तालकटोरा थाने की है। राहुल ट्रेडर्स के नाम से सीमेंट का गोदाम है। रविवार को मजदूर सीमेंट की बोरियों को लोडर में रख रहे थे।

इसी दौरान कई बोरियां मजदूरों के ऊपर गिर गई। इस दौरान में सुल्तान (40) और अर्जुन(60) बोरियों के नीचे दब गए।

आस-पास की लोगों की मदद से लोगों को बाहर निकालकर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

सेल्फी लेते रहे दरोगा

इस मामले में दारोगा संजय भारती की लापरवाही उजागर हुई है। आरोप है कि दारोगा वहां मदद करने के बजाय इस दुखद पल में सेल्फी लेने में मस्त दिखे।

दारोगा की ये फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

फिलहाल, पुलिस ने मजदूरों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू कर दी है।

-वहीं इस मामले में अधिकारियो का कहना है कि अगर ऐसा कोई मामले है तो जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी |