उत्तर-प्रदेश विधानसभा में अटल बिहारी वाजपेयी को दी गई श्रद्धांजलि

लखनऊ – उत्तर प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र के शुरू होने से पहले दिन विधानसभा और विधान परिषद में पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर शोक प्रस्ताव पेश किया गया, सदन सभी दलों के नेताओं ने अटल जी को श्रद्धांजलि दी,जिसके बाद सदन की कार्रवाई सोमवार तक के लिए स्थगित कर दी गई।

नेता सदन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर शोक प्रस्ताव पेश किया, मुख्यमंत्री ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी ने देश हित में कड़े निर्णय लिए, साथ ही अटल जी ने पत्र और पत्रिकाओं का सफल संपादन भी किया। अटल बिहारी वाजपेयी सदन में जब भी बोलते थे तो उनकी बातों को विपक्ष भी गंभीरता से लिया करता था। अटल बिहारी वाजपेयी जी ने मातृभाषा हिंदी को भी एक महत्वपूर्ण स्थान दिलाने का काम किया था, राजनीतिक एवं सांस्कृतिक क्षेत्र में योगदान के लिए अटल बिहारी वाजपेयी जी को भारत रत्न, पद्म भूषण जैसे अनेक सम्मान से विभूषित किया गया। अटलजी के निधन से भारत ने अपना एक सपूत खो दिया है।