लोकसभा में सरकार के खिलाफ लाया गया अविश्वास प्रस्ताव गिरा

दिल्ली – लोकसभा में मॉनसून सत्र के तीसरे दिन शुक्रवार को लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ पहले अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा हुई और चर्चा के बाद वोटिंग भी शुरु हुई। लोकसभा में केंद्र सरकार के खिलाफ विपक्ष द्वारा लाया गया पहला अविश्वास प्रस्ताव खारिज हो गया है। सदन में कुल 451 वोट पड़े जिसमें से सरकार के पक्ष में 325 वोट पड़े जबकि अविश्वास प्रस्ताव के खिलाफ 126 वोट पड़े। वोटिंग के बाद लोकसभा स्‍पीकर सुमित्रा महाजन ने ये ऐलान किया कि बीजेपी सरकार के खिलाफ अविश्‍वास प्रस्‍ताव गिर गया है।

पीएम मोदी ने कहा कि अविश्‍वास प्रस्‍ताव के बहाने अपने कुनबे को जमाने की कोशिश की गई है। हम यहां इसलिए हैं क्‍योंकि सवा सौ करोड़ देशवासियों का हमें आर्शीर्वाद है। आप इस प्रस्‍ताव के जरिए उन लोगों का अपमान न करें।

वहीं पीएम मोदी ने ये भी कहा कि हमें कहा गया कि जब मैं बोलूंगा तो आप 15 मिनट भी नहीं टिक सकेंगे। मैं आज यहां उपलब्‍धियों के साथ खड़ा हूं। हमारी उपलब्‍धियों पर विपक्ष को विश्‍वास नहीं है। जब हम डिजिटल लेनदेन की बात करने लगे तो सदन में बैठे लोग बताने लगे कि हमारे देश में लोग अनपढ़ हैं ऐसे लोगों को हमारे देश की जनता ने तमाचा मारा है, इनकी यही मानसिकता गलत है। पीएम ने कहा कि हमने महिलाओं को आगे बढ़ाने का काम किया है। तीन तलाक के मुद्दे पर हमारी सरकार मुस्लिम महिलाओं के साथ हैं। बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ जनअभियान बना है। पीएम मोदी ने 2024 के लिए दोबारा अविश्‍वास प्रस्‍ताव लाने का न्‍यौता देते हुए भाषण समाप्‍त किया