संघ के कार्यक्रम में प्रणब दा ने पढ़ाया देशभक्ति और राष्ट्रीयता का पाठ

 

नागपुर – तमाम अटकलों के बाद देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी गुरुवार को नागपुर स्थित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि हिस्सा लेने पहुंचे। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के तृतीय वर्ष संघ शिक्षा वर्ग के समापन समारोह को संबोधित करते हुए पूर्व राष्ट्रपति ने राष्ट्र, राष्ट्रवाद और देशभक्ति पर अपने विचार रखे। आरएसएस के कार्यक्रम में पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने देशभक्ति, राष्ट्रीयता और विविधता का पाठ पढ़ाते हुए कहा कि भारत के संदर्भ में ये सारी बातें एक दूसरे से मिलती हैं जिन्हें अलग कर पाना मुमकिन नहीं है, प्रणब ने अपने भाषण में इतिहास का जिक्र करते हुए कहा कि देश विविधता में एकता को देखता है यही बात भारत को खास बनाती है

आरएसएस के इस कार्यक्रम में करीब 707 स्वयंसेवक वहां पर मौजूद रहे, इस कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के तौर पर संघ प्रमुख मोहन भागवत भी मौजूद रहे, इससे पहले बुधवार को जब प्रणब मुखर्जी नागपुर पहुंचे, तो राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह भैयाजी ने हवाई अड्डे पर उनका स्वागत किया, उनके साथ नागपुर महानगर संघचालक राजेशजी लोया और विदर्भ प्रांत के सह कार्यवाह अतुल मोघे भी मौजूद रहे।