राजधानी लखनऊ के काकोरी ब्लॉक प्रमुख उपचुनाव में बीजेपी का कब्जा

 

राजधानी लखनऊ के काकोरी ब्लॉक प्रमुख उपचुनाव शांति पूर्ण ढंग से सम्पन्न हो गया ।उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी राम विलास रावत भारी मतों से विजयी हुए ।उपचुनाव में मात्र दो ही प्रत्याशी ही मैदान में थे ।जीत के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने जिन्दा बाद जिन्दा बाद के नारे लगाते हुए थोड़ी दूरी तक जुलसु निकाला ।

विकास खंड में कुल 76 बीडीसी सदस्य है ।सत्ता परिवर्तन के बाद ब्लॉक प्रमुख राज बाला के खिलाफ बीडीसी सदस्यों ने अविश्वास प्रस्ताव लाये थे। जिसके बाद राज बाला को पद से हटना पड़ा था। जिसके बाद जिलाधिकारी ने कुशमौरा की बीडीसी सदस्य कुमुद सिंह को ब्लॉक प्रमुख मनोनीत किया था। मनोनयन के करीब 6 माह बाद उपचुनाव की घोषणा की गयी ।उपचुनाव में भाजपा से राम विलास रावत व सपा से गिरधारी लाल ने नामाकन किया था। उपचुनाव में मात्र दो ही प्रत्याशी मैदान में थे शुक्रवार को ब्लॉक मुख्यालय पर चुनाव कराया गया। सभा गार को मतदान स्थल बनाया गया ।सहायक निर्वाचन अधिकारी व उपजिलाधिकारी मलिहाबाद जय प्रकाश अगिनहोत्री के देख रेख में चुनाव समपन्न हुआ ।सुबह करीब 11 बजे से मतदान शुरू हुआ मतदान शुरु में धीरे धीरे चला लेकिन बाद में तेज होता गया। शत प्रतिशत मतदान निर्धारित समय के पूर्व ही पूरा हो गया ।जबकि मतदान का समय 3 बजे तक का था ।सहायक निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि यदि निर्धारित समय से पूर्व शत प्रतिशत मतदान हो जाये तो मतों की गणना

की जा सकती है ।सहायक निर्वाचन अधिकारी के अनुसार कुल 76 मत पड़े ।गणना में 4 मत अवैध निकले ।भाजपा प्रत्याशी राम विलास रावत को कुल 58 मत मिले ।जबकि सपा प्रत्याशी गिरधारी लाल को मात्र 14 ही मत मिले ।कुल 58 मतों के साथ राम विलास भारी मतों से विजयी हुए। सहायक निर्वाचन अधिकारी ,एडीएम व पुलिस अधीक्षक ग्रामीण की मौजूदगी में विजयी प्रत्यशी राम विलास रावत को जीत का प्रमाण पत्र दिया गया ।जबकि उपविजेता गिरधारी लाल को इंस्पेक्टर संजय पांडेय ने सुरक्षित उनके खेमे भेजवाया ।वही जीत बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने  राम विलास रावत के साथ जिन्दा बाद के नारे लगा कर ख़ुशी का इज़हार किया ।इस अवसर पर भाजपा मंडल अध्यक्ष रवि राज लोधी ,सह मीडिया प्रभारी विजय मौर्य समेत कई भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे ।उप चुनाव के दौरान  पुलिस अधीक्षक ग्रामीण डॉ सतीश कुमार ,सी ओ मलिहाबाद संतोष सिंह ,इंस्पेक्टर संजय पाण्डेय समेत भारी पुलिस बल मौजूद रहा ।