दिल्ली में दोबारा होगी कांग्रेस प्रवक्ताओं की परीक्षा, पेपर लीक होने के कारण अब दिल्ली में कराई जा सकती है परीक्षा

लखनऊ – उत्तर-प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता नियुक्त करने के लिए ली गई परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद अब दोबारा से से लिखित परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। आवेदन की अंतिम तिथि 2 जुलाई है, पार्टी सूत्रों ने बताया कि प्रवक्ता पद की भर्ती के लिए अभी तक 36 नए आवेदन मिले हैं, सूत्रों के मुताबिक विवादों से बचने के लिए इस बार प्रवक्ताओं की परीक्षा लखनऊ की बजाय दिल्ली में कराई जा सकती है।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने प्रवक्ता नियुक्त करने के लिए 28 जून को लिखित परीक्षा का आयोजन किया गया था, जिसका पर्चा लीक हो गया था, परीक्षा में सवाल देखकर कांग्रेसियों के चेहरे पर हवाइयां उड़ने लगीं क्योंकि प्रवक्ता के लिए ऐसी किसी परीक्षा की कोई पूर्व सूचना उन्हें नहीं थी। प्रश्नपत्र देखकर कई पूर्व प्रवक्ताओं और परीक्षा में शामिल होने वाले नेताओं के पसीने छूट गए जिसमें ये भी ख़बरे आई थी कि प्रवक्ताओं ने प्रश्नों के उत्तर देखने के लिए नेताओं ने गूगल का भी सहारा लिया था। इन सब खबरों को देखते हुए ये कयास लगाए जा रहे हैं कि ये परीक्षा अब दोबारा होगी। वैसे तो कांग्रेस प्रवक्ताओं के लिए हुई लिखित परीक्षा गोपनीय रखी गई थी लेकिन परीक्षा के ठीक पहले ही इसके प्रश्न पत्र लीक हो गए, साथ ही पर्चा बटने से पहले ही पेपर सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

20 जून को उत्तर-प्रदेश के अध्यक्ष राज बब्बर ने यूपी के मीडिया विभाग समेत अन्य विभागों को भंग कर दिया था, नए प्रवक्ताओं की तैनाती के लिए ही परीक्षा आयोजित की गई थी। राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी और नेशनल मीडिया को-ऑर्डिनेटर रोहन गुप्ता दिल्ली से प्रश्नपत्र लेकर आए थे और उन्होंने ने ही परीक्षा कराई थी।