सम्भल में तीन कैदियों ने पुलिस वालों की आंखों में मिर्च झोंक दो सिपाहियों की हत्या, रायफल लेकर हुए फरार।

सम्भल में तीन कैदियों ने पुलिस वालों की आंखों में मिर्च झोंक दो सिपाहियों की हत्या, रायफल लेकर हुए फरार।

संभल के बनियाठेर थाना क्षेत्र में आज कैदियों को लेकर जा रही वैन में तीन कैदियों ने दो सिपाहियों की गोली मार दी। जिसमें सिपाहियों की मौत हो गई। तीनों कैदी एक रायफल लेकर मौके से फरार हो गए। पुलिस ने क्षेत्र को घेर कर कांबिंग शुरू कर दी है ।
*आई जी रमित शर्मा ने बताया* की बनियाठेर थाना क्षेत्र में चंदौसी कचहरी से मुरादाबाद जा रही पुलिस वैन को मुरादाबाद चंदौसी मार्ग पर ग्रीन गोल्ड नर्सरी के पास धर्मपाल, कमल, शकील नाम के तीन कैदियों ने कैदियों की ओर पुलिसकर्मियों की आंखों में मिर्ची पाउडर डाल दिया जिनसे वह घटना को अंजाम देने में कामयाब हो गए। जिसमें दो सिपाहियों हरेंद्र व बृजपाल को उन्हीं के रायफल छीन कर गोली मार दी। जिसमें उनकी मौके पर ही मौत हो गई। उक्त वैन में 24 कैदी थे। हम कोशिश कर रहे है। जल्दी से जल्दी इन सभी को गिरफ्तार करके पुलिस सख्त से सख्त कार्यवाही करेगी।

*2014 से यह कैदी जेल में बंद थे। कैदियों पर लूट, अपहरण ओर गैंगेस्टर जैसी संगीन आरोपों में कोई मामले दर्ज है।*
*सबसे बड़ा सवाल* घटना घटित होने के मौके पर मिर्च के पैकेट का मिलना तो कुछ बोल ही बयाँ कर रहा है। सवाल यह खड़ा होता है कि क्या कैदियों का कचहरी पर मिलाई करने आने वालों में मिर्च के पैकेट किसने थमाये थे या नहीं क्या कैदियों से मिलने आए लोग ही इस मामले में सम्मिलित होने की संभावना है यह बहुत बड़ा सवाल है। क्या यह पहले से ही इस घटना की तैयारी की थीं। लेकिन जब पुलिस कैदी वैन के पास पुलिस मौजूद होती है। तो फिर कैदियों को मिर्ची पॉउडर आख़िर कैसे आया। इस पूरे मामले का मास्टरमाइंड कौन है। यह तो पुलिस जाँच में ही सामने आयेगा।