शाहजहांपुर थाने में बीजेपी नेता की गुंडई

 

शाहजहांपुर,

शाहजहांपुर के बी० जे० पी० नेता मनोज कश्यप ने एक बार फिर विवादों में है, इसबार थाने में जम कर हंगामा काटा और क्षेत्राधिकारी जलालाबाद पर दलित होकर दलित का उत्पीडन करने का आरोप लगाया है ऐसा पहली बार नहीं है जब बी० जे० पी० नेता मनोज कश्यप ने थाने में हंगामा किया इससे पहले भी ये नेता कई बार थाने में हंगामा कर चुके है इससे कुछ दिन पहले ही मनोज कश्यप थाने में थानेदार को चूड़ियाँ पहनाने पहुंचे थे जिसपर काफी हंगामा हुआ था, पर अब तो जनाब सत्ता पक्ष के नेता है अब तो कहना ही क्या मानो इनको खुली छूट मिल गयी है जब चाहे थाने जाए और हंगामा करे पुलिस भी कुछ नहीं कर सकती क्यूंकि मामला बी० जे० पी० से जुड़ा है |
आप ये जो नज़ारा देख रहे है ये किसी बाज़ार का नहीं बल्कि शाहजहांपुर के थाने का है जहाँ पर बी० जे० पी० नेता अपने साथियों के साथ धरने पर पर बैठे है और सी० ओ० जलालाबाद पर बेईमानी का आरोप लगाते हुए जम कर नारेबाजी भी कर रहे है और सी० ओ० जलाबाद की बर्खास्तगी की मांग के नारे भी लगा रहे है और पुलिस सिर्फ मूकदर्शक बन कर सब कुछ चुप चाप सुन रही है बात अगर किसी आम आदमी की होती तो पुलिस ने अब तक सबको अन्दर कर दिया होता मगर ये तो बी० जे० पी० नेता है पुलिस करे भी तो क्या करे नेता जी तो जनसेवा कर रहे है बवाल भले ही थाना परिसर के अन्दर है पर पुलिस की तो मनो हाथ ही बंधे है |

वही इस पूरे मामले पर सी० ओ० जलालाबाद बलदेव सिंह खनेड़ा का कहना है के बी० जे० पी० नेता मनोज कश्यप थाने में हर मुक़दमे पर हस्तक्षेप करते है और नाजायज़ तरीके से दबाव बनाते है बी० जे० पी० नेता इतना ही नहीं ट्रान्सफर तक की धमकी देते है बी० जे० पी० मनोज कश्यप सही काम करने से रोकते है |