वाराणासी बाद हादसा 12 की 50 से ज्यादा लोग दबे होने की आशंका

वाराणसी में बड़ा हादसा,निर्माणाधीन पुल का एक हिस्सा गिरा 1 दर्जन से ज्यादा लोगो की मौत 50 से ज्यादा लोगो को नीचे दबे होने की असंका है।
कैंट स्टेशन के पास निर्माणाधीन फ्लाईओवर का पिलर गिरा नीचे कई गाड़िया दबी मौके पर अफरातफरी का माहौल दर्जन भर गाड़िया चपेट में कई स्थानीय लोग निकाल रहे है घायलों को

मुख्यमंत्री ने वाराणसी में कैण्ट स्टेशन के सामने निर्माणाधीन पुल के एक हिस्से के गिरने की दुर्घटना में लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया
मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रु0 तथा घायलों को 2-2 लाख रु0 की आर्थिक मदद की घोषणा प्रभावितों को तत्काल हर सम्भव सहायता प्रदान करने के निर्देश उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य तथा राज्य मंत्री  नीलकण्ठ तिवारी घटना स्थल पर पहुंचने के लिए वाराणसी रवाना

घटना की जांच के लिए मुख्यमंत्री द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों की एक टीम गठित की गयी यह टीम सभी बिन्दुओं पर जांच कर 48 घण्टे में अपनी रिपोर्ट देगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज वाराणसी में कैण्ट स्टेशन के सामने निर्माणाधीन पुल के एक हिस्से के गिरने की दुर्घटना में लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपये तथा घटना में घायल लोगों को 2-2 लाख रुपये की आर्थिक मदद उपलब्ध कराने की घोषणा की है।

मुख्यमंत्री जी द्वारा जिला प्रशासन, पुलिस, स्वास्थ्य विभाग एवं अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं कि वे तत्काल प्रभावितों को हर सम्भव सहायता प्रदान करें। एन0डी0आर0एफ0 के 250 जवानों द्वारा भी मौके पर राहत एवं बचाव का कार्य किया जा रहा है। उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य तथा राज्य मंत्री श्री नीलकण्ठ तिवारी घटना स्थल पर पहुंचने के लिए वाराणसी रवाना हो गये हैं।

घटना की जांच के लिए मुख्यमंत्री जी द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों की एक टीम गठित की गयी है, जिसमें कृषि उत्पादन आयुक्त श्री आर0पी0 सिंह, इंजीनियर इन चीफ सिंचाई श्री भूपेन्द्र शर्मा एवं जल निगम के प्रबन्ध निदेशक श्री राजेश मित्तल को नामित किया गया है। टीम को इस घटना की पूरी जांच तथा दोषी अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई प्रस्तावित करने एवं तकनीकी व अन्य सभी बिन्दुओं पर रिपोर्ट देने के लिए 48 घण्टे का समय दिया गया है। टीम को तत्काल घटना स्थल पर पहुंचने के निर्देश दिए गए हैं।